Browsed by
Month: February 2018

Homework for 28th Feb, 2018

Homework for 28th Feb, 2018

PYP Exhibition:

  • Create a Poster/Collage/Painting/Poem showcasing your ideas about India’s Culture. Best pieces of work will be selected for the final display on the day of Exhibition

Language:

  • Read the book ‘Holes’ till chapter 31 and answer the following questions in your Language notebook:-
    1. According to Sam, what could onions cure?
    2. Explain how Katherine became Kissin’ Kate Barlow.
    3. What is Zero’s real name and why is it significant?
    4. Who returned to Green Lake after twenty years? What had happened?
    5. When was the last time rain fell on Green Lake?
    6. Who else has turquoise-studded boots like Kate Barlow’s?
    7. Explain how Zero reacted to Mr.Pendanski telling him he was only good for digging holes.
    8. Where does Stanley hope Zero would take refuge?
    9. Why doesn’t Stanley fight back when Zigzag taunts him?

Have a great day!!! 🙂

Math : Distance Formula

Math : Distance Formula

Grade8 – G8 Elan
Homework assigned by: karan.chevli@fountainheadschools.org
Submission Date: Thu Mar 01 2018 00:00:00 GMT+0530 (IST)
Internet Required: Yes
Details: Complete 6 sums in your math notebook with necessary steps using distance formula.
Expected Time: 25 minutes

Hindi highlights and homework for Grade 4 – Cycle 28

Hindi highlights and homework for Grade 4 – Cycle 28

कक्षा कार्य

वर्णनात्मक लेखन का मूल्यांकन लिया गया | (SA)

गृहकार्य

वाचन और लेखन कार्य – ‘एक अधूरा घड़ा’ कहानी को पढ़कर दिए गए प्रश्नों के उत्तर नोटबुक में लिखो |

“एक अधूरा घड़ा”

कहानी है यह हिन्दुस्तान की।बहुत समय पहले की बात है एक भिश्ती था। उसके पास दो घडे थे। उन घडों को उसने एक लम्बे डंडे के दो किनारों से बांधा हुआ था।एक घड़ा था साबुत और सुन्दर परन्तु दूसरे घड़े में दरार थी।

भिश्ती हर सुबह नदी तट पर जा कर दोनों घड़े में पानी भरता और फिर शुरू होता उसका लम्बा सफर ऊंची पहाडी चढ क़र मालिक के घर तक । जब तक वह वहां पहुंचता टूटे हुए घड़ा में से आधा पानी रास्ते में ही बह चुका होता जबकि साबुत घडे में पूरा पानी होता।

बहुत समय तक ऐसे ही चलता रहा । मालिक के घर तक डेढ घड़ा पानी ही पहुंचता था।साबुत घडे क़ो अपने पर बहुत घमंड था। उसकी बनावट बहुत सुन्दर थी और वह काम में भी पूरा आता था । टूटे हुए घड़े क़ो अपनी बेबसी पर आंसू आते । वह उदास और दुखी रहता क्योंकि वह अधूरा था। उसे अपनी कमी का एहसास था। वह जानता था कि जितना काम उसे करना चाहिये वह उससे आधा ही कर पाता है।

एक दिन टूटा हुआ घड़ा अपनी नाकामयाबी को और सहन नहीं कर पाया और वह भिश्ती से बोला ”मुझे अपने पर शर्म आती है  मै अधूरा हूं। मैं आपसे क्षमा मांगना चाहता हूं।” भिश्ती ने उससे पूछा ”तुम्हें किस बात की शर्म है।” ”आप इतनी मेहनत से पानी लाते है और मैं उसे पूरा नहीं रोक पाता आधे रास्ते में ही गिर जाता है । मेरी कमी के कारण मालिक को आप पूरा पानी नहीं दे पाते”  दरार वाला घड़ा बोला।

भिश्ती को टूटे हुए घड़े पर बहुत तरस आया। उसके हृदय में दया और करूणा थी। उसने प्यार से टूटे हुए घड़े से कहा ”आज जब हम पानी लेकर वापस आयेंगे तब तुम रास्ते में खुबसूरत फूलों को ध्यान से देखना। चढते सूरज की रोशनी में यह फूल कितने अच्छे लगते है।”और उस दिन टूटे हुए घड़े ने देखा कि सारे रास्ते के किनारे बहुत ही सुन्दर रंगबिरंगे फूल खिले हुए थे।

उन लाल नीले पीले फूलों को देख कर उसका दुखी मन कुछ समय के लिये अपना दुख भूल गया। परन्तु मालिक के घर पहुंचते ही वह फिर उदास हो गया। उसे बुरा लगा कि फिर इतना पानी टपक गया था।नम्रतापूर्वक टूटे हुए घड़े ने फिर भिश्ती से माफी मांगी।

तब वह भिश्ती टूटे हुए घडे से बोला ”क्या तुमने ध्यान दिया कि रास्ते में वह सुन्दर फूल केवल तुम्हारी तरफ वाले रास्ते पर ही खिले हुए थे। मैं तुम्हारी इस कमजोरी के बारे में जानता था और मैने इसका फायदा उठाया। मैंने फूलों के बीज केवल तुम्हारी तरफ ही बोये थे और हर सुबह जब हम इस रास्ते से गुजरते तो तुम इन पौधों को पानी देते थे।पिछले दो सालों से यही फूल मालिक के घर की शोभा बढाते हैं। तुम जैसे भी हो बहुत काम के हो अगर तुम न होते तो मालिक का घर इन सुन्दर फूलों से सुसज्जित न होता।” 

ईश्वर ने हम सब में कुछ कमियां दी है। हम सब उस टूटे अधूरे घड़े ज़ैसे हैं पर हम चाहें तो हम इन कमजोरियों पर काबू पा सकते हैं।हमें कभी भी अपनी कमियों से घबराना नहीं चाहिये हमें एहसास होना चाहिये कि हममें क्या कमियां हैं और फिर उन कमजोरियों के बावाजूद हम अपने चारों तरफ खूबसूरती फैला सकते हैं खुशियां बांट सकते हैं।अपनी कमी में ही अपनी मजबूती ढूंढ सकते हैं।

कहानी नीरा कपूर / ग्राफिक्स पूर्णिमा वर्मन

http://www.hindinest.com/kahani/eag.htm

कहानी को पढ़कर प्रश्नों के उत्तर नोटबुक में लिखो|

प्र-१ रिक्त स्थानों की पूर्ति करो

  1. बहुत समय पहले कि बात है एक भिस्ती था उसके पास दो ______ थे|
  2. एक घड़ा था साबुत और सुन्दर परन्तु दूसरे घडे में ________ थी।
  3. ___________ टूटे हुए घडे ने फिर भिश्ती से माफी मांगी।

प्र-२ प्रश्नों के उत्तर लिखो

  1. भिस्ती हर सुबह उठकर कहाँ जाता था?
  2. भिश्ती ने टूटे घड़े कि कमज़ोरी का फायदा कैसे उठाया?
  3. दो घड़े इस कहानी से हमें क्या सीख मिलती हैं?

नोट

  • लेखन करते समय वर्णों और वर्तनी पर ध्यान दे |
  • H.W और दिनांक (Date ) जरूर लिखें |
  • कृपया अपने बच्चे को कहानी वाचन के लिए प्रोत्साहित करे और कहानी वाचन सारणी ‘मार्च’ (Reading log) महीने में भरे |
  • गुरुवार को कार्य पत्रिका कक्षा में सही जगह पर रखें |
G-3 Hindi Highlights and Homework – Cycle 28

G-3 Hindi Highlights and Homework – Cycle 28

कक्षा कार्य –

  1. वाक्यों का श्रुतलेखन लिया गया |
  2. रंगबिरंगी कहानियाँ से “बादाम किसे मिला ” कहानी का छात्रों ने वाचन किया और मौखिक (Oral) प्रश्न बनाएँ |

गृहकार्य –

अनुलेखन ( Copy Writing )

हिंदी वाचन पुस्तिका से पेज नं – 7 में “गिलहरी की कहानी ” दी हुई  हैं , उसका वाचन करें और Notebook में अनुलेखन करें |

शब्द वाचन –

हिंदी वाचन पुस्तिका से पेज नं – 13 में आए हुए शब्द अच्छे से २-३ बार पढ़कर याद करें | कक्षा में इन्ही शब्दों में से श्रुतलेखन लिया जाएगा |

Note-

1.अनुलेखन करते समय वर्तनी पर ध्यान दें |

2.एक लाइन छोड़कर लिखें |

3. H.W और दिनांक लिखें  |

4. फरवरी महीने का reading Log भरना ना भूलें |

5.Notebook में Homework में Tick करें |